स्टीफन हाकिंग की चेतावनी | Stephen hawking warning in Hindi

Stephen hawking warns humans will have to leave Earth in 1000 years

स्टीफन हाकिंग की चेतावनी : हम अक्सर Space Colonization यानी अंतरिक्ष में किसी दूसरे ग्रह पर बस्ती बसाने की बात करते हैंलेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि अंतरिक्ष में बस्ती बसाने का सही समय कब आएगा? मैंने पहले भी कई बार Space colonization काजिक्र किया है तो हर बार लोगों ने कमेंट किया है कि हमें Space Colonization की क्या जरूरत है ! अगर हम धरती को ही सही बना लें औरइसका प्रदूषण खत्म कर दें तो हमें कहीं जाने की भी जरूरत ना पड़े !

मैं उन लोगों की बात से बिल्कुल सहमत हूं कि अगर हम पृथ्वी का ध्यान रखें और ग्लोबल वॉर्मिंग ना करें तो पृथ्वी ही सबसे सही ग्रह है हमारेलिए ! लेकिन बात सिर्फ हमारी जनरेशन कि नहीं है हम बहुत ही खुशनसीब हैं कि हमें पृथ्वी के इस वातावरण में रहने का मौका मिल रहा हैलेकिन भविष्य में पृथ्वी का वातावरण ऐसा बिल्कुल भी नहीं रहने वाला ! हमारी जनरेशन और भविष्य में हमारे बाद आने वाली 3 से 4 जनरेशनतक तो कुछ नहीं होने वाला है लेकिन उसके बाद की जनरेशन क्या? क्या उनके समय में भी पृथ्वी का वातावरण वैसा ही रहेगा जैसा भी है?
अगर भविष्य में मानव जाति का अस्तित्व बचाए रखना है तो भविष्य के इंसानो को अंतरिक्ष में किसी दूसरे ग्रह पर बस्ती बनाकर रहना हीपड़ेगा ! यह अभी साइंस फिक्शनल लगता है लेकिन भविष्य का सच तो यही है !

14 नवंबर 2016 लंदन, ऑक्सफोर्ड यूनियन डिबेट सोसायटी को संबोधित करते हुए Stephen hawking ने एक डरावनी भविष्यवाणी की ! Stephen hawking ने बताया की मानव जाती के पास सिर्फ 1000 साल बचे हैं और 1000 सालों बाद मानव जाति का अस्तित्व खत्म होजाएगा ! Stephen hawking ने अपनी बात को को साबित करने के लिए कुछ तर्क भी दिए !

Stephen hawking ने बताया की आज लगभग हरेक देश आधुनिक और सब कुछ तबाह करने वाले हथियारों की संख्या बढ़ाते जा रहे हैं !माना कि हर एक देश शक्तिशाली हथियारों को अपनी सुरक्षा के नजरिए से देख रहे हैं और यह सही भी है लेकिन हर एक सिक्के के दो पहलूहोते हैं आज जो हथियार डिफेंस के लिए इस्तेमाल हो रहे हैं तो कल वही हथियार अटैकिंग मोड में भी एक्टिवेट होंगे !

हम इंसान छोटी से छोटी बातों पर लड़ बैठते हैं जिस दिन मिलोगे उस दिन नुक्लिअर वेपन अटैकिंग मोड़ में एक्टिवटे होंगे उस दिन धरती परजीवन की समाप्ति निश्चित है ! जिस दिन ये हथियार चले तो उस दिन पृथ्वी से सिर्फ इंसान ही नहीं बल्कि हर तरह का जीवन समाप्त हो जाएगा! इसका एक छोटा सा ट्रेलर हम अतीत में देख चुके हैं हिरोशिमा और नागासाकी ! आज के हथियार हिरोशिमा और नागासाकी पर छोड़े गएहथियारों से कई गुना ज्यादा शक्तिशाली है !

Stephen hawking ने अगला तर्क दिया ग्लोबल वार्मिंग, चाहे हम इंसान कोई नुक्लिअर वॉर लड़ें या ना लाडे चाहे हम पृथ्वी का सारा प्रदूषणही खत्म कर दें लेकिन पृथ्वी का औसत तापमान फिर भी बढ़ेगा ! पृथ्वी का औसत तापमान सिर्फ 4 से 5 डिग्री तक बढ़ने पर धरती पर रहनादुर्लभ हो जाएगा ! ऐसी बात नहीं है कि धरती का तापमान 4 से 5 डिग्री सेल्सियस बढ़ने पर धरती का जीवन ही खत्म हो जाए, नहीं, हाँ लेकिनधरती पर जीवन जीना मुश्किल हो जाएगा क्योंकि तापमान के बढ़ने से ग्लेशियर पिघल जायेंगे जिसकी वजह से समुद्र का जलस्तर बढ़ जाएगाऔर तटीय इलाके पानी में डूब जाएंगे ! समुद्र का पानी गर्म हो जाएगा और पृथ्वी का वातावरण भी गर्म हो जाएगा !

समय के साथ पृथ्वी का औसत तापमान बढ़ाना तो प्राकृतिक है लेकिन हम इंसान ग्रीन गैस पैदा करके पृथ्वी के संतुलन को बिगाड़ रहे हैं औरसमय से पहले ही पृथ्वी के औसत तापमान को बढ़ा रहे हैं ! अगर इसी तरह से चलता रहा तो वह दिन दूर नहीं जब प्रकृति हमें हमारे द्वारा किएगए कामों के हिसाब देना शुरू करेगी !

Stephen hawking का अगला तर्क है आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, वैज्ञानिक इस समय भविष्य की आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को गंभीर रुप सेदेख रहे हैं वैज्ञानिकों ने AI को तीन भागों में बांटा है Weak AI, Strong AI और Singularity AI !

अभी के समय में हम जिस AI का उपयोग कर रहे हैं वह है Weak AI ! अभी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इतनी एडवांस नहीं हुई है कि कोईचिंता का विषय बने लेकिन इसके बाद का जो लेवल है Strong AI ! Strong AI इंसानों की तरह ही सोच पाएगी और खुद से फैसले भी लेपाएगी इस लेवल की AI चिंता का विषय बन सकती है ! AI का तीसरा लेवल है सिंगुलैरिटी AI, सिंगुलैरिटी लेवल पर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंसइंसानों से आगे निकल जाएगी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का यही वह दौर है जिसको वैज्ञानिक गंभीरता से देखते हैं !

Stephen hawking का मानना है कि अगर इंसान भविष्य के खतरे को नजरअंदाज करते हैं तो शायद 1000 साल बाद इंसानों की नस्ल हीसमाप्त हो जाए ! Stephen hawking के अनुसार Space Colonization एकमात्र जरिया है मानव जाति का वजूद लंबे समय तक बचाएरखने के लिए !

Share with your friends
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *