see history

How to See History Earth in Hindi

How to See History

Let’s see history: कैसा होता कि हम गुजरे हुए वक्त में अपने पूर्वजों को देख पाते ? कैसा होता कि हम मिस्र के पिरामिडों को बनता हुआ देख पाते ? कैसा होता कि हम डायनासोर को देख पाते ? अक्सर हमारी इच्छा होती है कि हम अपने गुजरे हुए वक्त को देख पाए लेकिन सच तो यह है कि ऐसा हो पाना संभव नहीं है !

वैसे एक तरीका है कि हम पृथ्वी के गुजरे हुए वक्त को देख सकते हैं ( We can see past ) लेकिन यह महज एक कल्पना ही होगी क्योंकि प्रेक्टिकली ऐसा कर पाना असंभव होगा लेकिन हम इंसान कुछ भी सोचने के लिए आजाद हैं भले ही हम अपनी कल्पना को हकीकत में ना बदल पाए लेकिन हम कल्पना तो कर ही सकते हैं ! तो आइए मैं और आप मिल कर एक Science Fictional कल्पना करते हैं और पृथ्वी के गुजरे हुए वक्त को देखते हैं !

Let’s See history of the Earth

अपनी कल्पना के सागर में डूबने से पहले मैं आप का एक Concept क्लियर कर देना चाहता हूं हम हमेशा पास्ट में ही जीते हैं और हमेशा Past को ही देखते हैं ( we always see past ) और Past को ही सुनते हैं !  इस दुनिया मैं सबसे तेज जो भी चल सकता है वह है प्रकाश जिसकी स्पीड लगभग 300000 किलोमीटर प्रति सेकंड है ! इस स्पीड के साथ पृथ्वी के 1 सेकंड में 7.5 चक्कर लगाए जा सकते हैं !

हम इस दुनिया में जो भी देखते हैं वह उस वस्तु का प्रकाश होता है जिसको कि उस वस्तु से निकलकर हमारी आंखों तक पहुंचने में कुछ वक्त लगता है जैसे कि कोई बंदा आप से 1 मीटर की दूरी पर खड़ा है तो आप उस बंदे को तीन नैनो सेकंड Past में देखते हो क्योंकि उस बंदे से निकलने वाला प्रकाश आपकी आंखों तक पहुंचने में 3.3 नैनो सेकंड का समय लेता है !

आप इस पूरे यूनिवर्स में किसी भी चीज के Present को नहीं देखते बल्कि आप उस चीज से पास्ट में निकले हुए प्रकाश को ही देखते हो जैसे कि आप सूर्य को देखते हो, सूर्य पृथ्वी से 149.6 मिलियन किलोमीटर दूर है तो प्रकाश को सूर्य से पृथ्वी तक की इस दूरी को तय करने में 8 मिनट 20 सैकेंड लगते हैं ! मतलब आप पृथ्वी पर सूर्य का 3 मिनट 20 सेकंड पहले का निकला प्रकाश देखते हो मतलब आप सूर्य का 8 मिनट 20 सेकंड पहले का Past देख रहे हो !

इसी तरह चांद हम से 384400 किलोमीटर दूर है तो हम चांद का 1.3 सेकंड पहले का Past देखते हैं और मंगल ग्रह को हम 14 मिनट पास्ट में देखते हैं मतलब मंगल ग्रह पर मौजूद रोवर को पृथ्वी से कोई एक कमांड देने में 14 मिनट का समय लगेगा ! हम रात में सितारों को देखते हैं जो कि हम से हजारों प्रकाश वर्ष दूर है मतलब हम उनका हजारों साल पहले निकला हुआ प्रकाश देखते हैं जो कि हमारे पास हजारों सालों बाद अभी पहुंच रहा है मतलब हम हर रोज सितारों का हजारों साल पुराना Past देख रहे हैं !

यहां तक कि हम अपनी बॉडी में जो भी अनुभव करते हैं वह भी Past ही होता है जैसे अगर पैर में चोट लग जाए तो पैर की चोट का सिग्नल दिमाग तक पहुंचने में कुछ नैनो सेकेंड का समय लेता है मतलब हमारा दिमाग पैर में लगी चोट का कुछ नैनो सेकंड पहले का Past अनुभव करता है !

शायद अब आपका यह Concept क्लियर हो गया होगा कि हम हमेशा Past को ही देखते हैं We always see past और Past को ही अनुभव करते हैं we always feel past.

चलिए अब चलते हैं अपनी कल्पना के सागर में और पृथ्वी के गुजरे हुए वक्त को देखते हैं !

Let’s See History of the Earth

अगर हम पृथ्वी को अपने पड़ोसी Star Proxima Centory के किसी ग्रह से टेलिस्कोप के द्वारा देखे तो हम पृथ्वी का 4.2 साल पहले का गुजरा हुआ वक्त देख पाएंगे क्योंकि Proxima Centory पृथ्वी से 4.2 प्रकाश वर्ष दूर है इसलिए पृथ्वी से निकलने वाला प्रकाश Proxima Centory तक पहुंचने में 4.2 साल का समय लेगा !

अगर हम वहां से पृथ्वी पर मौजूद छोटी से छोटी चीज को पिन पॉइंट करना चाहते हैं तो इसके लिए हमें बहुत बड़े टेलीस्कोप की जरूरत पड़ेगी अगर हमारी टेलिस्कोप के लेंस का Diameter 250 लाख किलोमीटर का होगा तो हम पृथ्वी की 4.2 साल पहले की हर एक चीज को साफ-साफ देख पाएंगे ! यहां तक कि आप अपने आप को भी Clearly Observe कर पाओगे !

अगर हम पृथ्वी को 2000 Light Years दूर मौजूद किसी तारे के ग्रह से देखते हैं तो हम पृथ्वी के 2000 साल पहले के गुजरे वक्त को देख पाएंगे लेकिन पृथ्वी पर मौजूद हर एक इंसान को पिन पॉइंट करने के लिए हमें 11 बिलियन किलोमीटर Diameter के टेलिस्कोप की जरूरत पड़ेगी मतलब हमारे Telescope ka diameter हमारे सोलर सिस्टम जितना बड़ा होगा ! इतने बड़े टेलीस्कोप से हम Romans और अन्य गुजरी हुई सभ्यताओं को राज करते देख पाएंगे !

अगर हम अपनी पृथ्वी को अपनी पड़ोसी Galaxy एंड्रोमेडा से देखें तो हम पृथ्वी के 2500000 साल पहले गुजरे हुए वक्त को देख पाएंगे ! लेकिन अगर हम पृथ्वी पर मौजूद हर एक चीज को Pin Poit करना चाहते हैं तो हमें 15 ट्रिलियन किलोमीटर Diameter के टेलिस्कोप की जरूरत होगी मतलब हमारी टेलिस्कोप का Diameter  1.6 प्रकाश वर्ष का होगा ! जब हम पृथ्वी को देखेंगे तो हमें दिखाई देगा कि हमारे पूर्वज पत्थरों के औजार बनाकर शिकार करके अपना जीवन व्यतीत कर रहे हैं ! एंड्रोमेडा गैलेक्सी से हम अपनी मिल्की वे गैलेक्सी को भी देख पाएंगे कि दूर से हमारी Galaxy कैसी लगती है !

चलिए अब थोड़ा और दूर चलते हैं और अपनी पृथ्वी को एक बड़ी Galaxy Ngc6872 से देखते हैं जो कि हमारी मिल्की वे गैलेक्सी से 5  गुना बड़ी है और यह हमसे 212 मिलियन प्रकाश वर्ष दूर है ! अगर हम वहां से पृथ्वी पर मौजूद हर एक जानवर को Pin Point करना चाहते हैं तो हमें 132 प्रकाश वर्ष Diameter के टेलीस्कोप की जरूरत पड़ेगी !

जब हम पृथ्वी को देखेंगे तो हमें पृथ्वी का एक अलग ही द्रश्य नजर आएगा ! आज पृथ्वी पर कई को कॉन्टिनेंट्स मौजूद हैं लेकिन अभी से 212 मिलियन साल पहले हम सिर्फ एक ही कॉन्टिनेंट को देख पाएंगे और वह होगा Pengia और हम Pengia कॉन्टिनेंट पर राज कर रहे Dinosaurs को भी देख पाएंगे !

हम पृथ्वी से जितना दूर जाते जाएंगे हम इसका उतना पुराना Past or History देखते जाएंगे

तो दोस्तों अगर आपने पृथ्वी का गुजरा हुआ वक्त देख लिया हो तो अपनी कल्पना के सागर से निकलकर बाहर आते हैं

Universe End | Big RIP | Big Crunch | Big Freeze or Heat Death

checkout Tech & Myths channel

Share with your friends
  • 1
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *